Menu

          प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय,बाढ़,पटना

                                                      (Education Department,Government of Bihar)

700;400;4d857f6d1372b782f4cac391f21e4bd270645c2b700;400;f17a4add30d20695d3b5802e2438a5bc50c05176700;400;8e90979478c72f050006a0d8d66abe9006edc403700;400;8a0a76a6615d0ac86efe5590fe94c59c0159a525700;400;4a1bee2f34df034e16cf7bd4d40bdfe6b6a699ba700;400;be092c906ca0e591521caed6a766a8f4925d3138700;400;d849161a0a2c4078f0adda8132d6f8d187576797700;400;0af1b2faa7cdfb2d18451526a39bf0831cdfad56700;400;b368c41d33bceb928d2cf82964635c85ec1a79a1700;400;fe88dc5f2b4be381bffa2fb605c5d79648d08f44700;400;cfb044d40d0c312ef3a82d5490bd2df1a6f63243700;400;7627b77261aa61d85a84e8bafeccb82a7bb91a3c700;400;906fa96ffe5396cf0bf5d3d2a1075f05f40e26f2700;400;6cf01ee5031b5d7f9440356fc01648d6fe945237700;400;78da1fc2e769d3d639d21f43f99d8bca5cf41c5d700;400;09747f7803b5afba7f3adf365a1f6684e72438ab700;400;41723c85ef322fc2a55e982dcebd66f6f862d7c9700;400;777c2c537481cdc48d700ae354afcb52e3abc818700;400;6f9cd46921bc34acd77b6007643c8267162bad52700;400;42221fe329bd89cf90b9e5b7f480d1e81b5f4780700;400;02dcef2cb4913af48c13f1f7265c5cb76f462dac700;400;2c7ac0a8e39f8266b75f754db4dc7e37e11cd7e0

 नामांकन  2020-22

        नामांकन  2020-22

  औपबंधिक मेधा सूची-   Science            Arts & Commerce      Urdu        Cancelled Application

औपबंधिक मेधा सूची से संबंधित ऑनलाइन आपति (अंतिम तिथि-20 जनवरी 2021)....Click Here

   सत्र 20-22 में नामांकन हेतु आवेदन की अंतिम तिथि(दिनांक-04 जनवरी 2021) उपरांत नामांकन कैलेंडर की महंत्वपूर्ण तिथियाँ...
औपबंधिक मेधा सूची का प्रकाशन- 13.01.2021
आपति प्राप्त करना - 20.01.2021 तक
अंतिम मेधा सूची तथा प्रतीक्षक सूची का प्रकाशन- 27.01.2021 
नामांकन हेतु सूचना भेजना - 29.01.2021
प्रथम सूची और प्रतीक्षक सूची से नामांकन- 15.02.2021 तक 
नामांकन प्रकिया समाप्त- 16.02.2021 
कक्षा संचालन- 19.02.2021 से                              

   सत्र 2020-22 में नामांकन हेतु ऑनलाइन आवेदन दिनांक-21-12-2020 से दिनांक 04-01-2021 तक...........सूचना यहाँ देखें.

                                                                                                  प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय,बाढ़,पटना के बारे में

प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय,बाढ़,पटना बिहार सरकार के शिक्षा विभाग द्वारा संचालित शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान है जिसे ;N C T E द्वारा प्रतिवर्ष 150 सीटों पर नामांकन की अनुमति प्राप्त है.............मान्यता संबंधी पत्र.

Link For Online Application Fee Payment For Admission in Session 2020-22  

प्राचार्य का संदेश.

शिक्षा के प्रसार में सूचना तकनीक का अहम योगदान है. इसी सन्दर्भ में स्वयं को समकालीन करते हुए प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय,बाढ, पटना अब www.ptecbarh.online पर ऑनलाइन उपस्थित है.आशा है कि आप सब इस वेबसाइट का समुचित उपयोग सूचनाओं की प्राप्ति एवम ज्ञानार्जन के लिए कर पाएँगे.

                                                                                                                                                   Sri Shyamnandan 

                                                                                                                                                   Principal@Ptec Barh,Patna

                                                                                                                               

विजन:

  • राष्ट्रीय ज्ञान आयोग की सिफारिशों के अनुसार "एक पेशे के रूप में स्कूल शिक्षण की गरिमा को बहाल करना" तथा "योग्य एवं समर्पित शिक्षकों को अधिकाधिक प्रोत्साहित करना" आवश्यक है |
  • एनसीएफ 2005 एवं आरटीई एक्ट 2009 के आधार पर विकसित एनसीएफटीई 2009 की अनुशंसाओ के अनुसार बिहार राज्य के लिए "मानवीय गुणों से परिपूर्ण एक कुशल व्यवसायिक शिक्षक" तैयार करना जहाँ समवेशि शिक्षा, समान और सतत विकास का दृष्टिकोण, सामुदायिक ज्ञान की भूमिका, विद्यालयों के अंतर्गत ई लर्निंग के साथ साथ सुचना संचार प्रौद्योगिकी के उपयोग की महत्वपूर्ण भूमिका होगी |
  • प्रशिक्षु शिक्षकों एवं नियमित शिक्षकों द्वारा पाठ्यचर्चा की समीक्षा, पाठ्यक्रम एवं पाठ्यपुस्तकों का परीक्षण |

लक्ष्य:

  1. प्रशिक्षु शिक्षकों की भाषिक निपुणता को समृद्ध करना
  2. चर्चा-परिचर्चा/गतिविधि/समूह कार्य/परियोजना आधारित सैद्धांतिक कक्षा का व्यावहारिकता से तारतम्य स्थापित करना
  3. विद्यालय संपर्क कार्यक्रम में प्रशिक्षुओं द्वारा शिक्षण-अभ्यास के साथ-साथ विद्यालय की समग्र गतिविधि में सक्रिय भागीदारी
  4. शोध एवं नवाचार का उपयोग
  5. प्रशिक्षुओं के अनुभवों को प्रतिबिंबित करने का अवसर प्रदान करना